March 6, 2021
खेल

CA और CSA में ठनी, अब क्रिकेट द. अफ्रीका ने AUS में टेस्ट सीरीज खेलने का प्रस्ताव ठुकराया

तीन टेस्ट मैचों की सीरीज को लेकर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) और क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) अब आमने-सामने हो गए हैं। मंगलवार (2 फरवरी) को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने कोविड-19 महामारी और स्वास्थ संबंध दिक्कतों का हवाला देते हुए दक्षिण अफ्रीका दौरा स्थगित कर दिया था, जिस पर सीएसए ने अपनी निराशा व्यक्त की थी। सीएसए ने अब सीए के ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज खेलने के प्रस्ताव को ठुकरा दिया है।

सीए ने आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने की अपनी संभावनाओं को बनाए रखने के लिए दक्षिण अफ्रीका को अपने यहां टेस्ट सीरीज खेलने का प्रस्ताव दिया था, लेकिन सीएसए ने इसे पूरी तरह से नकार कर दिया है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अंतरिम मुख्य कार्यकारी निक हॉक्ली ने कहा कि सीएसए का कहना है कि उनकी अन्य देशों के साथ भी प्रतिबद्धताएं है और कोरोना काल में क्वारंटीन पीरियड में बहुत अधिक समय बर्बाद हो जाता है, जिसके कारण वह ऑस्ट्रेलिया आकर टेस्ट सीरीज नहीं खेलने के पक्ष में नहीं है।

हॉक्ली ने कहा, ‘हम दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड से बात कर रहे हैं। हमने प्रस्ताव रखा था कि वह ऑस्ट्रेलिया में आकर तीन मैचों की टेस्ट सीरीज को पूरा कर सकते हैं, लेकिन उन्होंने इसके लिए मना कर दिया है। हम किसी न्यूट्रल वेन्यू (तटस्थ स्थल) पर भी अभी नहीं खेल सकते हैं। इसके लिए कई तरह की प्रक्रियाओं से गुजरना होगा। इसके अलावा वहां पर कोविड-19 के अलग-अलग प्रोटोकॉल होंगे, साथ ही कई तरह की बंदिशों में हमें खेलना पड़ेगा।’

गौरतलब है कि यह दौरा स्थगित होने से ऑस्ट्रेलिया की आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने की उम्मीदों को गहरा झटका लगा है। ऑस्ट्रेलिया के यह सीरीज नहीं खेलने से न्यूजीलैंड ने फाइनल में स्थान बना लिया है। ऑस्ट्रेलिया ब्रिसबेन में भारत से हार के बाद प्वॉइंट टेबल में तीसरे नंबर पर खिसक गया है, जबकि भारत पहले और न्यूजीलैंड दूसरे पायदान पर है। ऑस्ट्रेलिया के 69.2 फीसदी अंक हैं, जबकि न्यूजीलैंड के 70 फीसदी और भारत के 71.7 फीसदी अंक हैं। न्यूजीलैंड की चैंपियनशिप में सीरीज पूरी हो चुकी हैं और उसके अंक उतने ही रहने हैं। ऑस्ट्रेलिया अब न्यूजीलैंड से आगे नहीं जा सकता है।

ऑस्ट्रेलिया के लिए फाइनल में पहुंचने की स्थिति तभी बन सकती है जब भारत और इंग्लैंड के सीरीज में बराबर अंक रहें और उनका फीसदी ऑस्ट्रेलिया के 69.17 प्रतिशत से नीचे गिर जाए तभी ऑस्ट्रेलिया फाइनल में पहुंच सकता है। यह तभी होगा जब सीरीज ड्रॉ रहे या इंग्लैंड 1-0, 2-0 या 2-1 के अंतर से जीते या फिर भारत 1-0 के अंतर से जीते।

Courtesy :https://www.livehinustan.com/

Related Posts