August 8, 2020
खेल देश

मोहम्मद कैफ ने नंबर 4 के लिए किया इस खिलाड़ी को सपोर्ट, बोले- टीम इंडिया इससे बेहतर खिलाड़ी नहीं ढूंढ सकती

पूर्व भारतीय बल्लेबाज ने युवा बल्लेबाज श्रेयस अय्यर का सपोर्ट करते हुए कहा कि इस खिलाड़ी में रनों की भूख है, जो भारतीय क्रिकेट टीम के लिए एसेट बन सकती है। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में फ्रेंचाइजी दिल्ली कैपिल्टल के सहायक कोच हैं। इसी आईपीएल फ्रेंचाइजी के कप्तान श्रेयस अय्यर हैं। कैफ को लगता है कि डोमेस्टिक क्रिकेट से आगे बढ़ने में अय्यर को कई सालों का वक्त लग गया और अब वह नेशनल टीम में हैं। उन्होंने कहा कि मुंबई के इस बल्लेबाज की किस्मत में कई महान चीजें लिखी हैं।

कैफ ने कमेंटेटर आकाश चोपड़ा के यूट्यूब चैनल ‘आकाशवाणी’ पर कहा, ”मैं श्रेयस अय्यर का बहुत बड़ा फैन हूं। पहली बात यह कि वह कई साल डोमेस्टिक क्रिकेट खेलकर आए हैं। उन्हें जल्दी से भारत के लिए खेलने का मौका नहीं मिला। उन्होंने कई साल आईपीएल खेला, कई सारे रन बनाए, तब जाकर उनके नाम को पहचान मिली। उनका नाम सही वक्त पर सामने आया, क्योंकि अब उनमें रनों की भूख है। वह घरेलू क्रिकेट खेलने से ऊब चुके हैं और भारत के लिए खेलना चाहते हैं।

भारतीय क्रिकेट टीम लंबे समय तक एक उपयुक्त नंबर 4 बल्लेबाज को खोजने के लिए संघर्ष करती रही, जो उनके 2019 विश्व क्रिकेट अभियान के लिए हानिकारक साबित हुआ। अंबाती रायडू, केएल राहुल, विजय शंकर और ऋषभ पंत हर किसी को आजमाया गया। हालांकि, श्रेयस अय्यर ने हाल ही में उनके लगातार प्रदर्शन के साथ नंबर 4 स्लॉट पर मजबूत पकड़ बना ली है।

कैफ ने कहा, ”श्रेयस अय्यर मानसिक रूप से बहुत सुलझे हुए हैं। उन्हें अपने खेल और अपनी भूमिका के बारे में अच्छी समझ है। वह आसानी से गुस्सा नहीं होते हैं और बोलने से पहले बहुत सोचते हैं। उन्होंने आईपीएल में कप्तानी करने से बहुत कुछ हासिल किया है, क्योंकि आप जिम्मेदारी लेना सीखते हैं। जब से वह कप्तान बने हैं, एक बेहतर खिलाड़ी बन गए हैं। भारतीय क्रिकेट टीम को नंबर 4 पर श्रेयस अय्यर से बेहतर खिलाड़ी नहीं मिलेगा।”

श्रेयस अय्यर को आईपीएल 2018 सत्र के दौरान दिल्ली कैपिटल के कप्तान के रूप में नियुक्त किया गया था। इस साल दिल्ली कैपिटल्स ने निचले पायदान पर अपना सफर खत्म किया था और गौतम गंभीर कप्तानी से हट गए थे। हालांकि, इसके एक साल बाद यानी आईपीएल 2019 में श्रेयस अय्यर की कप्तानी में दिल्ली कैपिटल्स 14 मैचों में से 18 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहा और नॉकआउट के लिए क्वालिफाई किया। कप्तानी के साथ अय्यर ने 16 मैचों में तीन अर्धशतकों के साथ 463 रन भी बनाए। कैफ को यकीन है कि दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी ने अय्यर की बल्लेबाजी में काफी मदद की है।

कैफ ने कहा, ”कप्तानी ने बहुत बड़ा बदलाव किया। आप यकीन नहीं करेंगे कि हमारी कई ऐसी मीटिंग  हुई हैं, जहां हमारे पास कप्तान नहीं था। हम मीटिंग करते थे और कप्तान को नहीं बुलाते थे, क्योंकि वह बहुत ज्यादा बात करना पसंद नहीं करते। वह अपने खेल के बारे में जानते हैं। वह थोड़ी-बहुत जानकारी लेते हैं, लेकिन बहुत गहराई में नहीं जाते। इसलिए, हम सभी समझते हैं कि वह ऐसे कप्तान नहीं हैं, जिन्हें बैठकर दो घंटे का लेक्चर देना है।”

उन्होंने कहा, ”हमने जाना कि हमें उसे थोड़ी आजादी देने की जरूरत है और उसे खेल पर ध्यान केंद्रित करने दें। जो भी भार हम बाहर से ले सकते हैं, हम लेंगे। श्रेयस को जो भी जानकारी चाहिए, वह हमसे लेंगे। वह इससे बहुत कुछ हासिल कर रहे हैं, क्योंकि वह अपने कम्फर्ट जोन से बाहर आ रहे हैं। जब आप कप्तान होते हैं, तो आपको टीम को भी साथ लेना पड़ता है। यह उनकी आदत नहीं थी, लेकिन आईपीएल में उन्होंने खुद को उस कम्फर्ट जोन से बाहर निकाल लिया।”

Courtesy :https://www.livehinustan.com/

Related Posts