April 18, 2021
लाइफ स्टाइल

वर्क फ्रॉर्म होम का नया ट्रेंड, घर के शोरगुल से दूर ‘कैंपर वैन’ में निपटाएं ऑफिस का काम

‘वर्क फ्रॉम होम’ सुनने में जितना आसान लगता है, हकीकत में उतना ही मुश्किल है। कभी बच्चों की उछल-कूद तो कभी कुकर की सिटी, कभी फल-सब्जी वाले की आवाज तो कभी टीवी का शोर, कर्मचारी जितना भी नजरअंदाज करें, काम से ध्यान भटक ही जाता है। हालांकि, अब जापान की मशहूर ऑटोमोबाइल कंपनी निसान ने एक ऐसी ‘कैंपर वैन’ तैयार की है, जिसमें पूरा ऑफिस सेटअप स्थापित किया जा सकेगा।

निर्माताओं के मुताबिक ‘ऑफिस पॉड’ के सिद्धांत पर आधारित इस कैंपर वैन के तीन फायदे हैं। पहला, ‘वर्क फ्रॉम होम’ के दौरान होने वाले शोरगुल से कर्मचारियों की उत्पादकता प्रभावित नहीं होगी। दूसरा, वे कोरोना संक्रमण की चपेट में आने की फिक्र छोड़ पूरा ध्यान काम में लगा सकेंगे।

तीसरा, उन्हें कंप्यूटर ले जाने के झंझट के चलते छुट्टियां मनाने का इरादा नहीं टालना पड़ेगा। निसान के अनुसार कैंपर वैन में मौजूद ‘ऑफिस पॉड’ पूरी तरह से ‘साउंड-प्रूफ’ होगा। इसमें एक आरामदायक कुर्सी के अलावा बड़ा कंप्यूटर लगाने की जगह उपलब्ध रहेगी। वैन में रोशनी की व्यवस्था भी कुछ इस तरह से की गई है कि कर्मचारियों की आंखों पर जोर न पड़े। इसके अलावा मन घबराने पर वे ऑफिस पॉड की छत खोलकर धूप और प्राकृतिक नजारों का लुत्फ उठा सकेंगे, वो भी महज एक स्मार्टफोन ऐप की मदद से।

संक्रमण का डर नहीं
-वाहन में मौजूद ऑफिस पॉड में ‘यूवी एंटीबैक्टीरियल लैंप’ से लैस बॉक्स उपलब्ध कराया गया है, जो स्मार्टफोन, चाबी और बटुए जैसी निजी वस्तुओं को संक्रमणमुक्त बनाने में सक्षम है।

सुरक्षा का पूरा ख्याल
-कैंपर वैन की फर्श पारदर्शी ‘पॉलीकार्बोनेट’ से बनाई गई है। यह कर्मचारी को वाहन के नीचे होने वाली गतिविधियों पर नजर रखने की सुविधा देती है, ताकि कोई उसे नुकसान न पहुंचा सके।

‘वर्क फ्रॉम होम’ को आसान बनाने की कवायद
-‘वर्क फ्रॉम होम’ में पेश आने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए दुनियाभर में अलग-अलग आविष्कार किए जा रहे हैं।

1.पार्क में ‘टाइनी पोर्टेबल ऑफिस’ बन रहे
-नीदरलैंड की डिजाइन फर्म ‘डच इंवर्चुअल्स’ ने कुर्सी, टेबल और सोफा-कम-बेड से लैस ‘टाइनी पोर्टेबल ऑफिस’ तैयार किया है, जिसे घर के पिछले हिस्से या पार्क में स्थापित किया जा सकता है। देश के दो हॉलीडे पार्क में ऐसे दर्जनों दफ्तर किराये पर भी उपलब्ध कराए गए हैं। लकड़ी और एल्युमिनियम से बने इन दफ्तरों में कांच की खिड़की लगाई गई है, ताकि कर्मचारियों को दम घुटने की शिकायत न सताए। यही नहीं, उनमें दिलकश एक्रिलिक दीवारें दी गई हैं, ताकि कर्मचारियों न सिर्फ प्रेजेंटेशन की तैयारी में मदद मिले, बल्कि वे दिमाग में आने वाले रचनात्मक विचारों को तुरंत लिख भी सकें।

2.‘क्यूवर्केंटाइन’ साथ बैठने की सुविधा देगा
-अमेरिका के मशहूर आर्किटेक्ट मोहम्मद रदवान ने ‘क्यूवर्केंटाइन’ नाम के ऐसे ऑफिस का खाका पेश किया है, जिसमें कर्मचारियों के लिए षट्कोणीय आकार के कैबिन बनाए गए हैं। हर कैबिन में वेंटिलेशन (वायु संचार) की उचित व्यस्था की गई है। कर्मचारियों को ‘स्काई लाइट’ उपलब्ध कराने का प्रस्ताव किया गया है, ताकि वे प्राकृतिक प्रकाश में काम करने की अनुभूति तो ले ही सकें, साथ ही उन्हें एक-दूसरे से कटा-कटा भी न महसूस हो। ‘क्यूवर्केंटाइन’ का निर्माण छिद्ररहित सामग्री से किया जाएगा, ताकि वायरस ऑफिस में जम सके और सेनेटाइजेशन की प्रक्रिया भी आसान हो।

3.गार्डन में ‘पॉप-अप ऑफिस’ बनवा रहे लोग
-अमेरिकी पेशेवर ‘वर्क फ्रॉम होम’ में काम की गुणवत्ता और उत्पादन क्षमता बनाए रखने के लिए घर के पिछले हिस्से या गार्डन में ‘पॉप-अप ऑफिस’ लगवा रहे हैं। टेबल, कुर्सी, सोफा, बुकशेल्फ, एसी सहित अन्य सुविधाओं से लैस इस ऑफिस को जहां मर्जी वहां खिसकाया जा सकता है। निर्माता के मुताबिक ‘पॉप-अप ऑफिस’ लगवाना किराए पर कमरा लेने से कहीं बेहतर और सस्ता है। अव्वल तो कर्मचारियों को हर महीने किराया नहीं देना होता। दूसरा, रोज-रोज घर से दफ्तर के बीच की यात्रा का खर्च बच जाता है। तीसरा, सार्स-कोव-2 से संक्रमित होने का डर भी नहीं सताता।

4.किराए पर कमरे लेने का चलन भी बढ़ा
-दुनिया के कई देशों में नौकरीपेशा लोग किराए पर घर लेकर ‘वर्क फ्रॉम होम’ कर रहे हैं। इससे उन्हें न सिर्फ उत्पादकता बढ़ने में मदद मिल रही है, बल्कि तनाव पर काबू पाना भी आसान हो पा रहा है। मिसाल के तौर पर न्यूयॉर्क सिटी के फिलिप वास्केलसोस जिस अपार्टमेंट में रह रहे हैं, उन्होंने उसी की छठी मंजिल पर 450 वर्ग फीट के दायरे में बना स्टूडियो अपार्टमेंट किराए पर ले लिया है। इसके लिए वह 2100 डॉलर (करीब 1.47 लाख रुपये) प्रति महीने की दर से किराये का भुगतान कर रहे हैं। वहीं, आईटी पेशेवर एलन क्लेन घर से काम करने के लिए एक अलग फ्लैट ही खरीद लिया है।

Courtesy :https://www.livehinustan.com/

Related Posts