March 1, 2021
Uncategorized

प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में विकास प्राधिकरण के मिली भगत से चल रहा है अवैध नव निर्माण

मामला धूपचंडी इलाके का,सूत्रों के हवाले से पता चला कि मार्केट में घूम रहे (सरकारी कर्मचारी )विकास प्राधिकरण के कर्मचारियों ने लिया है प्रकाश साहनी से पैसा उन्ही लोगो के आदेश पर हो रहा है यह अवैध तरीके का नवनिर्माण

आपको बता दे कि शशिकांत दीक्षित जे 12/102 धूप चंडी वाराणसी के 100 वर्ष पूर्व आज भी उसी मकान में वर्तमान निवासी है, आज लगभग 10 दिनों से सटे हुए मकान जो कि खण्डहर था,अब अवैध नव निर्माण में विपरीत हो रहा है आखिर इनको नक्शा किसके द्वारा व आदेश किसके द्वारा दिया गया कि ये इस निर्माण को तेजी से बढ़ा रहे है इसमे अंडरग्राउंड का भी काम तेजी से चल रहा है जो कि नीव को कमजोर करते हुए पानी मरते हुए दीक्षित जी के मकान को कमजोर कर रही है,पूर्व मकान के नीचे दीवाल ,पिलर खड़ा कर रहा है प्रकाश साहनी व उनके लड़को के सह पर मिस्त्री व लेबर कर रहे है काम , दीवाल व पिलर के खड़ा करने से प्रार्थी के मकान की खिड़की बंद हो सकती है प्रार्थी ने प्रकाश साहनी को बोला कि लेखपाल व नक्शा से पास कराकर जो सही है वो आप करो लेकिन प्रकाश साहनी के द्वारा प्रार्थी के ऊपर उखड़ गए कि मेरी पहुँच आप से ऊपर तक है दीक्षित जी मेरा विकास प्राधिकरण कुछ नही कर सकती क्योंकि आप से ज्यादा हम दुकान से कमाते है ,आज प्रार्थी बहुत डरा सहमा था जिससे प्रार्थी बहुत बुजुर्ग है काफी समय से ,शशिकांत दीक्षित के द्वारा आज जान माल की रक्षा करते हुए प्रकाश साहनी के द्वारा अवैध निर्माण को रोक दिया जाए यह अति आवश्यक एवम् न्याय संगत है जिसकी सूचना नाटी इमली चौकी पर सूचना रिपोर्ट के माध्यम से आज दी गई है जिसमें सेकंड ऑफिसर सब इंस्पेक्टर साबिर के द्वारा मौके पर फैंटम को भेजकर काम रुकवा दिया गया लेकिन आप इस फोटो में देख सकते है कि आखिर योगी जी के सरकार में किसके आदेश के द्वारा ये अवैध नव निर्माण करवाया जा रहा है ये अत्यंत निंदनीय है ।

आखिर न नक्शे का पता, न पूर्व रजिस्ट्री मालिक का पता, खंडहर जमीन पर कब्जा, आखिर कौन दिया अधिकार की आप किसी के मकान के नीचे किसके अधिकार पर कर देते हो अंडरग्राउंड व नवनिर्माण किसी को कुछ नहीं पता ।

अवैध निर्माण को रोकने हेतु प्रशासन व vda इस विषय पर सख्त से सख्त ध्यान दे व कार्यवाही सख्त करे ।।

Related Posts