August 8, 2020
खेल देश

रमीज राजा बोले- फवाद आलम को मिलना चाहिए टेस्ट क्रिकेट में दूसरा मौका

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान रमीज राजा का मानना है कि इंग्लैंड के खिलाफ बायो सिक्योर एन्वॉयरमेंट में आने वाले समय में खेली जाने वाली टेस्ट सीरीज में पिछले एक दशक से अधिक समय से दूसरे मौके का इंतजार कर रहे बाएं हाथ के बल्लेबाज फवाद आलम को मौका मिलना चाहिए। रमीज ने कहा कि 34 वर्षीय आलम लंबे समय से टेस्ट क्रिकेट में दूसरे मौके इंतजार कर रहे हैं।

रमीज राजा ने यूट्यूब सेशन में फैन्स के जवाब देते हुए कहा, ‘मेरा मानना है कि उसने (आलम) घरेलू क्रिकेट में जिस तरह से लगातार अच्छा प्रदर्शन किया उसे देखते हुए वो मौके का हकदार है क्योंकि अब उसकी उम्र बढ़ती जा रही है।’ रमीज ने कहा, ‘मुझे लगता कि उन्हें फवाद आलम को टीम में रखना चाहिए क्योंकि वो लंबे समय से इंतजार कर रहा है। अगर यह इंतजार और लंबा खिंचता है तो उस पर उम्र का असर दिखना शुरू हो सकता है क्योंकि आपके रिफ्लेक्स धीमे पड़ने लग जाते हैं। उसे टेस्ट सीरीज में निश्चित तौर पर एक मौका मिलना चाहिए।’

निजी कारणों से इंग्लैंड दौरे से हटे हैरिस सोहेल

पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज 5 अगस्त से मैनचेस्टर में शुरू होगी। आलम ने पाकिस्तान की तरफ से केवल तीन टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 41.66 की औसत से 250 रन बनाए हैं। उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट मैच 2009 में न्यूजीलैंड के खिलाफ ड्यूनेडिन में खेला था। मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज हैरिस सोहेल के निजी कारणों से हटने के कारण आलम को मौका मिलने की संभावना है। श्रीलंका के खिलाफ जुलाई 2009 में अपने टेस्ट डेब्यू पर शतक जड़ने वाले आलम ने 2010 से 2015 के बीच 38 वनडे और 24 टी20 इंटरनैशनल मैच भी खेले।

तीन सलामी बल्लेबाजों के साथ उतरे पाकिस्तान

रमीज ने इसके साथ ही कहा कि पाकिस्तान को प्लेइंग इलेवन में तीन सलामी बल्लेबाजों रखकर इमाम उल हक को तीसरे नंबर पर उतारना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘वे इमाम को अतिरिक्त सलामी बल्लेबाज के रूप में रख सकते हैं, क्योंकि कोविड-19 की परिस्थितियों में गेंदबाज गेंद को चमकाने के लिए लार का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं, ऐसे में बिना विकेट गंवाए नई गेंद की चमक खत्म करना महत्वपूर्ण होगा। इसलिए मुझे लगता है कि टीम में अतिरिक्त सलामी बल्लेबाज होना चाहिए।’

Courtesy :https://www.livehinustan.com/

Related Posts