February 26, 2021
उत्तर प्रदेश यूपी वाराणसी अपडेट

यूपी उपचुनाव: नौगावां में वोटरों का उत्साह बरकरार, एक बजे तक सबसे ज्यादा वोटिंग

उत्तर प्रदेश की सात विधानसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव में सुबह से ही नौगावां सादात सीट पर मतदाताओें का उत्साह बरकरार है। सातों सीटों पर सुबह से नौगावां ने सबसे ज्यादा वोट प्रतिशत के साथ बढ़त बनाए हुए है। घाटमपुर में सबसे कम मतदान हो रहा है। दोपहर एक बजे तक सातों सीटों पर औसतन 30.21 प्रतिशत वोटिंग हुई थी।

सबसे ज्यादा वोटिंग नौगावां सादात सीट पर 35.4 प्रतिशत हो चुकी थी। सबसे कम घाटमपुर में 24.74 प्रतिशत वोटिंग हुई। इसके अलावा बुलंदशहर  में 28.83 प्रतिशत, बांगरमऊ में 31.04 प्रतिशत, टूंडला में 29.5 प्रतिशत, देवरिया 31.85 प्रतिशत और जौनपुर की मल्हनी में 30.12 प्रतिशत वोटिंग हुई थी।

इससे पहले सुबह 11 बजे तक सातों सीटों पर 18.49 प्रतिशत वोट पड़े थे। इसमें सबसे ज्यादा नौगवां और सबसे कम वोटिंग घाटमपुर में हुई थी। यूपी में अमरोहा की नौगंवा, बुलंदशहर, फिरोजाबाद की टूण्डला, उन्नाव की बांगरमऊ, कानपुर नगर की घाटमपुर, देवरिया और जौनपुर की मल्हनी सीट पर वोटिंग हो रही है। सभी सीटों पर शाम छह बजे तक मतदान होगा।

सुबह 11 बजे तक नौगांवा सादात सीट पर 23.41 प्रतिशत, बुलंदशहर सीट पर 19, टूंडला सीट पर 17, बांगरमऊ सीट पर 22.24, घाटमपुर सीट पर 14.76, देवरिया सीट पर 18 और मल्हनी सीट पर 15 प्रतिशत मतदान हुआ था। फिलहाल कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।

फिरोजाबाद की टूंडला सीट पर कुछ स्थानों पर मतदाताओं ने विकास कार्य न होने की शिकायत करते हुए मतदान का बहिष्कार किया। रुधऊ मुस्तकिल मतदान बूथ संख्या 30 के मतदाताओं ने ‘विकास नहीं तो वोट नहीं’ के नारे लगाते हुए मतदान का बहिष्कार किया है और इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।  कोविड-19 महामारी के समय प्रदेश में पहली बार हो रही इस चुनावी कवायद में कुल 24,34,368 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। उपचुनाव में कुल 88 प्रत्याशी मैदान में हैं।

उपचुनाव के लिए 1,754 मतदान केंद्र तथा 3,655 मतदेय स्थल बनाए गए हैं। मतदान के लिए 5,127 इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की कंट्रोल यूनिट और 5,492 वीवीपैट तैयार किए गए हैं। कोविड-19 के मद्देनजर निर्वाचन आयोग ने मतदान स्थलों पर मतदाताओं की अधिकतम संख्या 1,000 तक रखने के निर्देश दिए हैं। मतदान केंद्रों पर कोविड-19 प्रोटोकॉल सुनिश्चित कराने के लिए थर्मल स्कैनर, हैंड सैनिटाइजर, दस्ताने, फेस मास्क, फेस शील्ड, पीपीई किट, साबुन और पानी की समुचित व्यवस्था की गई है। मतदेय स्थल पर हर मतदाता की थर्मल स्कैनिंग की जा रही है।

नौगांवा सादात, बुलंदशहर, घाटमपुर, देवरिया और मल्हनी सीटें चुने गए विधायकों के निधन की वजह से रिक्त हुई हैं। बांगरमऊ सीट भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को उम्र कैद की सजा सुनाये जाने के कारण उनकी सदन की सदस्यता समाप्त होने जबकि टूंडला की सीट पर विधायक चुने गए एसपी सिंह बघेल के आगरा से सांसद बनने के बाद खाली हुई है। 2017 के विधानसभा चुनाव में इन सात सीटों में से छह पर भाजपा ने जबकि मल्हनी सीट पर सपा ने जीत हासिल की थी।

Related Posts