उत्तर प्रदेश खास खबर मिर्ज़ापुर यूपी

यूपी: चुनाव से पहले अपना दल में एक बार फिर पड़ी फूट, माँ कृष्णा पटेल ने किया पार्टी पर दावा

नई दिल्ली: यूपी विधानसभा चुनाव के दौरान अपना दल में मचा घमासान डेढ़ साल बाद एक बार फिर सामने आने लगा है. मामले में एक गुट को लीड कर रहीं कृष्णा पटेल ने अनुप्रिया के पति और आशीष पटेल पर गंभीर आरोप लगाए हैं. कृष्णा पटेल ने दावा किया है कि असली अपना दल पार्टी उनकी ही है. आशीष पटेल अपना दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष नहीं हैं. कृष्णा पटेल ने कहा कि जब अपना दल का गठन हुआ था, तब आशीष कहीं कोई कार्यकर्ता भी नहीं थे.

वहीं लोकसभा चुनावों को लेकर कृष्णा पटेल किससे गठबंधन करेगीं. इस पर उन्होंने कहा कि हमारी सभी दलों से बातचीत चल रही है. जो अपना दल की विचारधारा को मानेगा, हम उसके साथ जाएंगे. वहीं अगर बात नहीं बनती है तो अपना दल यूपी में 30 से 35 सीटों पर अपना प्रत्याशी उतारेगा. कृष्णा पटेल ने कहा कि अनुप्रिया पटेल को अपना दल ने सांसद बनाया था. वहीं अपना दल का राष्ट्रीय अध्यक्ष उन्हें कार्यकर्ताओं ने बनाया था. उन्होंने कहा कि अपना दल में कोई गुट नहीं है. अपना दल एक ही है, कोई दूसरा नहीं है.

उन्होंने कहा कि अपना दल की स्थापना के बाद से अब तक कई लोग हमसे अलग हुए और अपनी नई पार्टियां बनाईं. ये सभी अपना दल के क्लोन हैं. इस दौरान कृष्णा पटेल ने कहा कि योगी सरकार ने निराश्रित गौवंश के लिए जो गौशालाओं की घोषणा की है, उसका वह स्वागत करती हैं. इससे किसानों को बड़ी राहत मिलेगी.

वहीं गठबंधन की बात पर कृष्णा पटेल ने कहा कि हमारे पास सभी विकल्प खुले हैं. कांग्रेस, बसपा, सपा और तमाम पार्टियों के शीर्ष नेतृत्व से हमारी बात चल रही है. हम किसी के साथ भी गठबंधन कर सकते हैं. सम्मानजनक सीटें मिलीं तो बीजेपी से भी गठबंधन हो सकता है. उन्होंने कहा कि अनुप्रिया पटेल को पार्टी ने गंभीर आर्थिक कदाचार में लिप्त पाए जाने के कारण और पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते 2015 में उन्हें निष्कासित कर दिया था.

 

Related Posts