June 2, 2020
खास खबर दुनियाँ सेहत

कई देशों के दबाव के कारण आखिरकार डब्ल्यूएचओ जांच के लिए तैयार

डब्ल्यूएचओ की वार्षिक सभा में हिस्सा ले रहे हैं देशों ने इस संकट के प्रति संयुक्त जवाबी कार्रवाई की अपील करते हुए आम सहमति से एक प्रस्ताव पारित किया जिसमें यह कहा गया कि जांच में यह शामिल हो कि कोरोना महामारी के संबंध में डब्ल्यूएचओ ने कब-कब क्या-क्या कदम उठाएं मंगलवार के प्रस्ताव में कई देशों से कोरोना के खिलाफ किसी भी उपचार या टीके का पारदर्शी और समान समय से पहुंच सुनिश्चित करने के लिए कहा गया।

प्रस्ताव में इस वायरस की उत्पत्ति के मुद्दे पर भी बात हुई डब्ल्यूएचओ ने इस वायरस को जानवर संबंधी स्रोत तथा उसके इंसान तक पहुंचने की जांच में मदद करने की अपील की गई है।

यूरोपीय संघ द्वारा पेश प्रस्ताव में इस महामारी के प्रति अंतरराष्ट्रीय जवाबी कार्रवाई के निष्पक्ष स्वतंत्र और मूल्यांकन की मांग की गई है इसका उद्देश्य इसकी रोकथाम के लिए डब्ल्यूएचओ द्वारा अंतरराष्ट्रीय प्रयासों के मिले सबक की समीक्षा करना है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने डब्ल्यूएचओ को आगाह किया है कि वह अगले 30 दिन में ऐसा कुछ करके दिखाएं जिससे यह लगे कि वह चीन की कठपुतली नहीं है और वह स्वतंत्र होकर काम कर रही है

Related Posts