April 18, 2021
लाइफ स्टाइल

ठंड में पालक दाल खाने के ये फायदे जानकर भूल जाएंगे सूप! जानें पालक दाल बनाने की हेल्दी रेसिपी

सर्दियों में पालक सेवन के कई फायदे हैं। आयरन की कमी को दूर करने के साथ पालक में इम्युनिटी पावर को बूस्ट करने वाले विटामिन भी होते हैं। सबसे ज्यादा फायदा पालक वाली दाल खाने से होता है। आइए, जानते हैं पालक वाली दाल खाने के फायदे और इसे बनाने का हेल्दी तरीका –

पालक के पोषक तत्व 
पालक में विटामिन A, विटामिन C, विटामिन K, मैग्नीशियम, मैगनीज और आयरन पर्याप्त मात्रा में होता हैं। आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए, तनाव को कम करने और ब्लड प्रेशर को सही बनाए रखने के लिए पालक खाना फायदेमंद होता है। खून की कमी होने पर सबसे पहले लोग पालक खाने की सलाह देते है, इससे शरीर में हीमोग्लोबिन बढ़ता है।

अरहर की दाल में मौजूद पोषक तत्व 
100 ग्राम अरहर दाल में 22 ग्राम प्रोटीन, 343 कैलोरी, 17 मिलीग्राम सोडियम, 1392 मिलीग्राम पोटैशियम, 63 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 15 ग्राम फाइबर और विटामिन ए, बी12, डी और कैल्शियम की मात्रा पाई जाती है।

 

चने की दाल में मौजूद पोषक तत्व 
चने की दाल जिंक, कैल्शिीयम, प्रोटीन, फोलेट आदि से भरपूर होने के कारण आपको आवश्यक और जरूरी ऊर्जा देती है।

 

palak dal

 

पालक वाली दाल खाने के फायदे 
-पालक में विटामिन के की अच्छी मात्रा होती है। वहीं, दाल में प्रोटीन मौजूद होता है जिससे  हड्डिमयां और मांसपेशियां मजबूत होती हैं।
-पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने के लिए भी दाल पीने की सलाह दी जाती है। ये शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मददगार है। इसके अलावा अगर -आपको कब्ज की समस्या है, तो भी पालक वाली दाल फायदेमंद है।
-अगर आपको त्वचा से जुड़ी कोई समस्या है,  तो पालक की दाल में नींबू का रस डालकर पिएं। इसे त्वचा ग्लोइंग और जवां बनी रहती है। ये बालों के लिए भी अच्छा है।
-गर्भवती महिलाओं को पालक की दाल खाने की सलाह दी जाती। पालक का जूस पीने से गर्भवती महिला के शरीर में आयरन की कमी नहीं होती है।
-पालक में मौजूद कैरोटीन और क्लोरोफिल कैंसर से बचाव में सहायक हैं। इसके अलावा ये आंखों की रोशनी के लिए भी अच्छा है।

 

कैसे बनाएं पालक वाली दाल 
आप पालक वाली दाल किसी भी दाल से बना सकते हैं लेकिन अरहर और चने की दाल मिलाकर दाल बनाने से पालक की दाल का स्वाद बढ़ जाता है। इसे बनाने के लिए कुकर में एक दो चम्मच देसी घी डालकर इसमें हींग, जीरा और मिर्च से तड़का लगा लें। इसके बाद पालक को डालकर 1 मिनट भूनें। इसके बाद दोनों दालों को कुकर में डालकर नमक, हल्दी, मिर्च, आधा चम्मच गर्म मसाला और काली मिर्च पाउडर डालकर दो-तीन सीटी लगने दें। इसके बाद दाल में अलग से तड़का लगाकर इसे रोटी या चावल के साथ खाएं। आप चाहें, तो इसे ऐसे भी सूप की तरह घी डालकर पी सकते हैं।

Courtesy :https://www.livehinustan.com/

Related Posts